Get Android App

An ISO 9001:2008 Certified Academy

Mumbai | Ahmedabad | New Delhi | Pune | Kolkata

logo

International Professional Business Training

Enquiry / Helpline
+91-9829693797
+91-9828683810

Welcome To Export Import Academy

|

If you want to do really 1st Export shipment then join us

|

Complete Solution for Your Export Business

|

Get Practical Training by Experts

कपास निर्यात मांग बढ़ने से, रिकॉर्ड स्तर पार कर सकता है भारत |

  • Home -
  • कपास निर्यात मांग बढ़ने से, रिकॉर्ड स्तर पार कर सकता है भारत |
  • 08 Apr
  • 2019

कपास निर्यात मांग बढ़ने से, रिकॉर्ड स्तर पार कर सकता है भारत |

कपास एक फसल है जिसके उत्पादन से रुई प्राप्त की जाती है | भारत में इसे "सफ़ेद सोना" के नाम से भी जाना जाता  है|  कपास के पौधे बहुवर्षीय वृक्ष जैसे होते है| कपास मुख्यतः तीन प्रकार के होते है -लम्बे रेशे वाली कपास, मध्य रेशे वाली कपास और छोटे रेशे वाली कपास | कपास  की एक गांठ 170 किलोग्राम की होती है| विश्व के बाजारों में कपास के दाम उच्च स्तर पर पहुंच जाने से भारत के कपास का निर्यात तेजी पकड़ रहा है|

एक्सपोर्ट इम्पोर्ट अकादमी बताएगी, क्या है बाजार में आज कपास की दरें |

भारत सरकार ने कपास के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया था, जिसकी वजह से दुनियाभर में कपास की कीमतें बढ़ गई हैं| कपास की पैदावार करने वाला भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है| भारत से निर्यात हुए कपास का 80 % चीन के लिए जाता है|  इसी वजह से भारत कपास उद्योग की ऊंची कीमतों को लेकर चर्चा में है| भारतीय बाजार में कपास के 170 किलोग्राम की एक गठरी का भाव 16,830 रूपए चल रहा है | वहीं न्यूयॉर्क के वायदा बाजार में कपास की कीमतों में थोड़ा इजाफा हुआ है| कॉटन फाइबर की व्यापक मांग की वजह से कीमतों में तेजी आयी है|

कैसे कम खर्च में कपास का व्यापार शुरू करें और कमायें डॉलर्स ($), जानें एक क्लिक पर |


Free Expert Advice
9829693797