Get Android App

An ISO 9001:2008 Certified Academy

Mumbai | Ahmedabad | New Delhi | Indore | Pune | Kolkata

logo

International Professional Business Training

Enquiry / Helpline
+91-9829693797
+91-9828683810

Welcome To Export Import Academy

|

If you want to do really 1st Export shipment then join us

|

Complete Solution for Your Export Business

|

Get Practical Training by Experts

क्वोटेशन का उपयोग कहाँ और कैसे किया जाता है?

  • Home -
  • क्वोटेशन का उपयोग कहाँ और कैसे किया जाता है?
  • 02 May
  • 2019

क्वोटेशन का उपयोग कहाँ और कैसे किया जाता है?

Kshemkari Export Import Academy में आज क्वोटेशन के विषय में चर्चा करेंगे | क्वोटेशन क्या है, कैसे उपयोग किया जाता है, कहाँ जरुरत होती है क्वोटेशन की आदि| Kshemkari Academy के एक्सपर्ट्स क्वोटेशन पर सलाह देते हुए निर्यात व्यापार में आगे बढ़ते है|

क्वोटेशन एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है जो निर्यातक के साथ-साथ खरीदार को भी लाभ देता है और इस क्वोटेशन को व्यवस्थित रखने के लिए एक चेकलिस्ट तैयार की जाती है | इस चेकलिस्ट में सभी महत्वपूर्ण विषय पर ध्यान दिया जाता है- जैसे मूल्य, डिलीवरी का समय, कर, बैंक शुल्क और परिवहन मोड आदि होना चाहिए|

नीचे निर्यात तैयार करने के लिए चेकलिस्ट दी गई है -

  • विक्रेता  का विवरण यानी नाम, संपर्क जानकारी, पता, आईडी प्रूफ, टैक्स प्रूफ
  • उत्पादों की बिक्री का स्थान और समय
  • क्रेता का  विवरण यानी  नाम, संपर्क जानकारी, पता, आईडी प्रूफ, टैक्स प्रूफ
  • शिप टू पार्टी का पूरा विवरण यानी नाम, संपर्क जानकारी, पता, आईडी प्रूफ, टैक्स प्रूफ
  • कुछ अतिरिक्त जानकारी जैसे -
  • भुगतान का प्रकार
  • यदि आवश्यक हो तो लाइसेंस
  • कोई भी प्रमाणपत्र या विवरण जो खरीदार के देश द्वारा आवश्यक होगा
  • प्रासंगिक कानून
  • क्वोटेशन तिथि की समाप्ति आदि |

6. देश का विवरण जिसमें शिपमेंट किया जाएगा

7. माल के उत्पाद के लिए खरीदार द्वारा प्रदान की जाने वाली सभी प्रकार की वस्तुएं और सेवाएं |

Kshemkari  Export Import Academy से जल्दी जुड़िए और दी जाने वाली सेवाओं का भरपूर लाभ लीजिए|


Free Expert Advice
9829693797